Baidyanath Kumariasava - 450ml

Baidyanath Kumariasava

4.5
Ratings

₹ 152

₹ 169

10%

You will earn 3 points from this product

1 Bottle of 450 ml Liquid

Manufacturer : Shree Baidyanath Ayurved Bhawan Pvt Ltd

बैद्यनाथ कुमारियासव लिक्विड के बारे में जानकारी

बैद्यनाथ कुमारी आसव कुमारी, त्रिफला, त्रिकटु, अकरकरा, चतुरजात, धनिया, देवदारू, पीपलमुला, चित्रकमूल, पुनर्नवा लोहा चूर्ण, दारू हल्दी, रसना, दांती मूल, स्वर्ण मक्षिक भस्म, पिप्पल, धातुकी पुष्पा, गुड़ (गुड़) का संयोजन है। .

बैद्यनाथ कुमारी आसव एक परिवर्तनकारी, टॉनिक हैमेटिनिक है जो एनीमिया, यकृत की वृद्धि, कब्ज, बुखार, खांसी, अस्थमा में संकेतित है। कुमारियासव एक तरल आयुर्वेदिक औषधि है जिसका उपयोग जठरशोथ, मूत्र पथ के विकारों आदि के उपचार में किया जाता है। कुमारीवासम में स्वयं निर्मित अल्कोहल का 5 10% होता है। यह स्व-निर्मित अल्कोहल और उत्पाद में मौजूद पानी शरीर में सक्रिय हर्बल घटकों को पानी और अल्कोहल में घुलनशील बनाने के लिए एक मीडिया के रूप में कार्य करता है।

कुमारी आसव का उपयोग पेट फूलना, सूजन, खांसी, सर्दी, घरघराहट, बवासीर, वात असंतुलन रोगों और कुछ न्यूरोलॉजिकल स्थितियों जैसी श्वसन स्थितियों के उपचार में किया जाता है।

उपयोग की दिशा:-

3 से 6 चम्मच समान मात्रा में पानी के साथ भोजन के बाद दो बार या चिकित्सक के निर्देशानुसार।

चिकित्सकीय देखरेख में उपयोग करें।

Information about Baidyanath Kumariasava Liquid

Baidyanath Kumari Asava is a combination of kumari, Triphla,Trikatu, Akarkara, Chaturjat, Dhania, Devdaru, Pipalmula, Chitrakmool, Punarnava Loha Churna, Daru Haldi, Rasna, Danti Mool, Swarn Makshik Bhasm, Pippal, Dhataki Pushpa, Jaggery (Gud) .

Baidyanath Kumari Asava is an alterative, tonic haematinic indicated in anaemia, enlargement of liver, constipation, fever, cough, asthma. Kumariasava is a liquid Ayurvedic medicine used in the treatment of gastritis, urinary tract disorders etc. Kumariasavam contains 5 to 10 % of self generated alcohol in it. This self-generated alcohol and the water present in the product acts as a media to deliver the water and alcohol soluble active herbal components to the body.

Kumari asava is used in the treatment of abdominal distention, bloating, respiratory conditions like cough, cold, wheezing, piles, vata imbalance diseases and certain neurological conditions.

Directions of use:-

3 to 6 teaspoonful with equal quantity of water twice after meals or as directed by the physician.

Use under medical supervision.


4.5
Based on 2 reviews
5
1
4
1
3
0
2
0
1
0